Friday, 11 July 2014

जो बीत गए पल वो कल कहां से लाऊं

   
 जो बीत गए पल वो कल कहां से लाऊं
     जिस बात में थे शामिल वो बात कहां से लाऊं
     जिस खुशी में थे शामिल, वो हंसी कहां से लाऊं
     जिस गम में थे शामिल, वो आंसू कहां से लाऊ
     जो बीत गए पल वो कल कहां से लाऊं
     जिस वफा में थे शामिल वो प्यार कहां से लाऊं
     जिस खता में थे शामिल वो दर्द कहां से लाऊं
     जो बीत गए पल वो कल कहां से लाऊं
     जिस करार में थे शामिल वो इंतजार कहां से लाऊं
     जिस खुमार में थे शामिल वो दीदार कहां से लाऊं
     जो बीत गए पल वो कल कहां से लाऊं

4 comments: